आज है वट सावित्री व्रत.. सुहाग की दीर्घायु के लिए की जाती है वटवृक्ष की पूजा..

BIHAR BREAKING NEWS ganges HOME LIVE NEWS Patna patna city PHOTOS मिथिलांचल

(मिथिलांचल न्यूज़/डेस्क): पौराणिक मान्यताओं के अनुसार राजकुमारी सावित्री अपने पति की जान बचाने के लिए यमराज के पीछे पीछे चल पड़ी थी, उनकी अपने पति के लिए अकूत श्रद्धा और बुद्धिमानी से प्रसन्न होकर यमराज ने उनके पति की जान बक्श दी थी। एक और मान्यता ये भी है की वट वृक्ष की उम्र बहुत लम्बी होती है इसकी पूजा करने से सधवा स्त्रियों के सुहाग की उम्र बढ़ती है।

आज है वट सावित्री व्रत.. पटना सिटी में जगह जगह सुहागिनों ने की वट वृक्ष और वर की पूजा..

इस दिन सुहागिन औरते अपने सुहाग की लंबी उम्र की कामना के लिए व्रत रखती है..

पौराणिक मान्यताओं के अनुसार वट वृक्ष में होता है ब्रह्मा, विष्णु और महेश का वास..

फल व पकवानों का लगाया जाता है भोग

पति के लिए पत्नी के प्रेम को दर्शाती है ये पवित्र वट सावित्री पूजा..

एक तरह से देखा जाए तो आज वृक्षों की पूजा या कहे सेवा पर्यावरण संकट से बचने का अच्छा उपाय है बशर्ते इस पर्व की महत्ता अन्य दिनों में भी लोग समझे और वृक्षों को बचायें।