आस्था का महापर्व चैती छठ नहाय-खाय के साथ शुरू 23 को होगा पहला अर्घ्‍य

STORY

चार दिवसीय चैती छठ की शुरुआत आज नहाय-खाय के साथ शुरुआत हो गई है. गुरुवार को खरना होगा। शुक्रवार को भगवान सूर्य को पहला अर्घ्‍य दिया जाएगा। शनिवार को उगते सूर्य को अर्घ्‍य देने के साथ छठ का पारण हो जाएगा। बाजार में छठ व्रत को लेकर मिट्टी के चूल्हे, आम की लकड़ी एवं फलों की दुकानें सज गई हैं।

खरना के दिन शाम का प्रसाद ग्रहण करने के बाद 36 घंटे का निर्जला व्रत शुरू हो जाता है. गुरुवार को करना था शुक्रवार को सूर्य देव को पहला अर्घ्‍य दिया जाएगा. शनिवार को सुबह सूर्य देव को दिए दूसरे अर्घ्‍य के साथ महापर्व की समाप्ति होगी.

महापर्व की जानकारी तिथियों में:-

बुधवार, चतुर्थी तिथि – नहाए-खाय
गुरुवार, पंचमी तिथि – खरना
शुक्रवार, षष्ठी तिथि – शाम का अघ्र्य
शनिवार, सप्तमी तिथि – प्रात:कालीन अघ्र्य
25 मार्च को मनाई जाएगी रामनवमी
25 मार्च दिन रविवार को रामनवमी मनाई जाएगी।