जब एक दूसरे के सामने हुए तेजस्वी -नीतीश कुमार जानिए फिर क्या हुआ..???????????

BIHAR

पटना [mithilanchalnews.in]। राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप अपनी जगह हैं और आपसी रिश्ते अपनी जगह, यही वजह है कि प्रतिदिन आप जिसे राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी मानकर उसपर आरोप लगाते हैं और वो ही अगर सामने पड़ जाए तो आपका क्या रिएक्शन होगा।

इसकी एक बानगी सोमवार को बिहार के विधानपरिषद में देखने को मिली। जब नेता प्रतिपक्ष और सीएम नीतीश का एक-दूसरे से सामना हुआ तो दोनों ने एक-दूसरे को देखकर मुस्कुरा दिया और एक-दूसरे का अभिवादन करने के लिए हाथ जोड़ लिए।

दरअसल, बिहार विधानपरिषद के एनेक्सी भवन में सोमवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी, राबड़ी देवी सहित 10 नवनिर्वाचित विधानपरिषद के सदस्यों ने पद और गोपनीयता की शपथ ली। शपथ ग्रहण के लिए आए मुख्यमंत्री का सामना अचानक नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव से हुआ तो दोनों एक-दूसरे को देखकर मुस्कुरा दिए।

अपनी मां राबड़ी देवी के शपथ ग्रहण समारोह में तेजस्वी भी उनके साथ विधानपरिषद आए थे।

विधानपरिषद सदस्य के रूप में नीतीश कुमार, सुशील मोदी एवं राबड़ी ने तीसरी बार और रामचंद्र पूर्वे की यह चौथी पारी शुरू हुई। अन्य सभी छह सदस्य पहली बार विधानपरिषद के सदस्य पद की शपथ ली।

विधानपरिषद में अब दलों की स्थिति

जदयू : 32
भाजपा : 22
राजद : 09
कांग्रेस : 03
भाकपा : 02
लोजपा : 02
रालोसपा : 01
हम : 01
निर्दलीय : 03

नव निर्वाचित विधानपार्षद

जदयू : नीतीश कुमार, रामेश्वर महतो एवं खालिद अनवर
भाजपा : सुशील मोदी, मंगल पांडेय और संजय पासवान
राजद : राबड़ी देवी, रामचंद्र पूर्वे, सैयद खुर्शीद मोहसिन
कांग्रेस : प्रेमचंद मिश्रा
हम : संतोष सुमन