नीतीश का तेजस्वी को सलाह सीखे सदन की मर्यादा… जानिए क्या है घटना

BIHAR

पटना बिहार मिथिलांचल न्यूज़:- विधानसभा के बजट सत्र के आखिरी दिन विपक्ष ने विधानसभा में प्रदेश में व्याप्त हिंसा को लेकर सदन में खूब हंगामा किया तथा दंगा फैलाने वाले लोगों की जल्दी गिरफ्तारी की मांग की.

शुरू में नीतीश कुमार शांति से सबको सुन रहे थे परंतु जब प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव सदन की कार्यवाही में रुकावट डाल रहे थे तो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने तेजस्वी को कहा कि बाबू राजनीति में आपका कैरियर बहुत लंबा है. इसलिए सदन की मर्यादा सीखने की सलाह दे दी.

इसके बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राष्ट्रीय जनता दल के वरिष्ठ नेता अब्दुल बारी सिद्दीकी को कहा कि वह नेता प्रतिपक्ष को सदन की मर्यादा सिखाएं.

विपक्षी के बार-बार हंगामा करने पर नीतीश कुमार ने नाराजगी जताते हुए कहा कि कहा कि कौन कहता है? रामनवमी में दंगा हुआ, कहीं कोई घटना नहीं हुई। उन्होंने कहा कि विपक्ष जिस तरह दंगा-दंगा की रट लगाए हुए है उससे तो लगता है कि यही लोग दंगा भड़काना चाहते हैं।

साथ ही उन्होंने कहा कि झगड़े झगड़े के विषय पर सदन में चर्चा करने का मतलब है झगड़े को और बढ़ावा देना. उन्होंने कहा कि ऐसे मसले का शांतिपूर्वक तरीके से सुलझाने की जरूरत है.

उन्होंने कहा कि औरंगाबाद में कहीं भी कर्फ्यू नहीं लगा हुआ है और ना ही कहीं फायरिंग हुई है .उन्होंने संसद को आश्वस्त किया कि अपराधियों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी की जाएगी पर जो भी इस घटना के पीछे हैं उन्हें कड़ी से कड़ी सजा दी जाएगी.