बिहार MLC चुनाव: नीतीश, सुशील मोदी व राबड़ी का निर्विरोध निर्वाचन तय, 19 को होगी औपचारिक घोषणा

POLITICS

पटना बिहार मिथिलांचल न्यूज़ :-बिहार विधान परिषद की खाली हो रही 11 सीटों के लिए कल नामांकन के आखिरी दिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सहित कुल 11 उम्मीदवारों ने अपना नामांकन दाखिल किया है.

हालांकि किसी अतिरिक्त उम्मीदवार के नामांकन पत्र दाखिल नहीं करने के कारण सभी का निर्विरोध निर्वाचित होना तय है.

17 अप्रैल को स्क्रूटनी एवं 19 को नाम वापस लेने की आखिरी तारीख के बाद जीत की औपचारिक घोषणा भी कर दी जाएगी। परिषद में नीतीश, सुशील एवं राबड़ी की तीसरी पारी तथा मंगल की दूसरी पारी होगी।

इन्होंने किया है नामांकन

जदयू

नीतीश कुमार.

रामेश्वर महतो.

खालिद अनवर.

भाजपा

सुशील मोदी.

मंगल पांडे.

संजय पासवान.

राजद

पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी.

प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे.

सैयद खुर्शीद मोहसिन

जबकि चौथे प्रत्याशी के रूप में राजद ने हम प्रमुख जीतन राम मांझी के पुत्र संतोष सुमन को समर्थन दिया है।

नीतीश कुमार सुशील मोदी 2006 में पहली बार बने थे एमएलसी.

2005 में जब पहली बार एनडीए की बिहार में बनेगी तब जाकर नीतीश कुमार और सुशील मोदी पहली बार 2006 में बिहार विधान परिषद के सदस्य बने थे इससे पहले दोनों लोकसभा सदस्य थे. बिहार में राजद की सरकार बनने के बाद दोनों एक साथ मुख्य-मंत्री और उपमुख्यमंत्री के पद पर स्थापित हुए थे.

आपको बताते चलें कि राज्य में मंत्री बनने के लिए आपको राज्य के किसी भी सदन का सदस्य होना अनिवार्य है इसी कारण 2006 में नीतीश कुमार ,मोदी को लोकसभा के सदस्यता से इस्तीफा देकर बिहार विधान परिषद के लिए निर्वाचित किया गया था.