बोधगया सीरियल बम ब्लास्ट के सभी आरोपी दोषी करार 31 मई को सुनाई जाएगी सजा

BIHAR

विश्व धरोहर महाबोधि मंदिर परिसर में 7 जुलाई 2013 को किए गए सीरियल बम ब्लास्ट के सभी पांच आरोपी को शुक्रवार को एनआईए के विशेष न्यायाधीश मनोज कुमार ने सुनवाई पूरी होने के बाद दोषी करार दे दिया है न्यायाधीश ने सजा के ऐलान के लिए 31 मई की तारीख मुकर्रर की है.

एनआईए की विशेष अदालत ने पूरी मामले की सुनवाई के दौरान 90 गवाहों की गवाही दर्ज की गई. सीरियल बम ब्लास्ट के पूरी सुनवाई में उमेर सिद्दीकी अजहर उद्दीन कुरेशी हैदर अली मुजीब उल्लाह अंसारी और इम्तियाज अंसारी शामिल थे इन सभी आरोपियों पर गांधी मैदान सीरियल बम ब्लास्ट के भी आरोप है.

आपको बताते चलें कि बोधगया ब्लास्ट मामले में एनआईए की टीम ने 4 लोगों के खिलाफ आरोपपत्र दायर किया था जिसमें चौथा आरोपी नाबालिग था जिसके कारण उसके मुकदमा को पटना के गायघाट स्थित जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड को भेज दिया गया था जहां सुनवाई पूरी होने के बाद नाबालिग आरोपी को बोधगया तथा गांधी मैदान सीरियल बम ब्लास्ट मामले में 3 साल की सजा सुनाई थी.

आरोपी करार दिए गए 5 में से दो आरोपी छत्तीसगढ़ के रायपुर के निवासी है जबकि बचे हुए तीन झारखंड के रहने वाले हैं.

आपको बताते चलें कि 7 जुलाई 2013 की सुबह 6:00 बजे मुझसे धरोहर महाबोधि मंदिर परिसर के आसपास सीरियल बम ब्लास्ट किए गए थे जिसमें दो व्यक्ति घायल हुए थे.