लुट रही जनता, खामोश बैठी तमाशा देख रही पुलिस

DARBHANGA

दरभंगा । बैंक से रुपये निकालने वालों के साथ लूट की घटनाएं लगातार बढ़ रही हैं। बावजूद, पुलिस सुस्त है। सड़क पर न तो पुलि¨सग दिख रही है और न ही बैंक के अंदर प्रवेश करने वाले अनजान लोगों को रोक जा रहा है। ऐसी स्थिति में बैंकों से रुपये निकालने वाले ग्राहकों में भय का माहौल है। दरअसल, सारा खेल पुलिस के सामने घट रही है। बावजूद, पुलिस खामोश है। यही कारण है एक दिन के अंदर दो घंटनाओं को अंजाम दिया गया। बेंता ओपी के मुस्लिम स्कूल के पास विनोद कुमार लाल से पांच लाख रुपये व विश्वविद्यालय थाना के विद्यापति चौक के पास सारामोहनपुर गांव निवासी मो. जाकिर हुसैन की पुत्री नाजिया नाज से 70 हजार रुपये लूट लिए। बताया जाता है कि तमाम घटनाएं कोढ़ा गिरोह के सदस्य अंजाम दे रहे हैं। मात्र तीन दिन पहले 6 अप्रैल को नगर थाना क्षेत्र के एमआरएम कॉलेज गेट व भोगेंद्र झा आजाद चौक के बीच बदमाशों ने एक दंपती से 75 हजार रुपये लूट लिए थे। सकतपुर थाना क्षेत्र के उजान गांव निवासी विनय कुमार मंडल अपनी पत्नी के साथ बैंक से रुपये निकालकर दरभंगा टावर स्थित अग्रवाल ड्रेसेज में खरीदारी करने आए थे। इसी बीच पीछे से आ रहे बाइक सवार ने उनकी पत्नी के हाथ से रुपये से भरा पर्स छीनकर फरार हो गया। इसी जगह 24 फरवरी 2017 को देर शाम अपराधियों ने महिला डाकघर अभिकर्ता व रामबाग मोहल्ला निवासी सुषमा कुमारी से पांच लाख रुपये से भरा बैग लूटकर फरार हो गया था। वे लालबाग डाकघर से रुपये निकालकर दोनार चौक स्थित अपने एक ग्राहक को देन जा रही थी। वहीं 12 दिनों पहले 29 मार्च को विश्विविद्यालय थाना क्षेत्र के बाघ मोड़ व बेला मोड़ के बीच बाइक सवार बदमाशों ने रानीपुर के एक दंपती से 44 हजार रुपये लूट लिए। मिर्जापुर स्थित ¨सडिकेट बैंक से रुपये लेकर पति-पत्नी बाइक से जा रहे थे। इसी बीच बाघ मोड़ व बेला मोड़ के बीच पीछे से आ रहे बाइक सवार ने बैग छीनकर फरार हो गया। आज 9 अप्रैल को बेंता ओपी क्षेत्र स्थित मुस्लिम स्कूल के पास जो घटनाएं घटी ठीक इसी तरह कुछ दिन पहले वहां दो घटनाएं घट चुकी हैं। 8 सितंबर 2017 दो घटनाओं को अंजाम देकर 2 लाख 70 हजार रुपये लूट लिए गए थे। पहली घटना कर्पूरी चौक के पास घटी तो दूसरी दोनार चौक के पास । दोनों ही जगहों पर बैंक से रुपये निकालने वाले ग्राहकों के साथ ही घटना घटी। पहली घटना के बाद अगर पुलिस हड़कत में आती तो दूसरी घटना नहीं घटती । मधुबनी जिले के बासोपट्टी थाने ने मानापट्टी गांव निवासी व सेवानिवृत शिक्षक सोभित यादव एसबीआई की डीएमसी शाखा से 40 हजार रुपये की निकासी की। पूर्व से 40 हजार रुपये उनके पास थे। वे 80 हजार रुपये से भरे झोले लेकर बैंक शाखा व कर्पूरी चौक के बीच रिक्शा पर बैठना चाहे। इसी बीच बाइक सवार दो अपराधियों ने झोला छीनकर फरार हो गए। इस घटना के दो घंटे बाद नगर थाना क्षेत्र के दोनार चौक स्थित नाका पांच की ओर जाने वाली सड़क पर घटना घट गई। दोनार एसबीआई शाखा से बहादुरपुर थाना क्षेत्र के छपरार गांव निवासी रामबहादुर यादव ने एक लाख 90 हजार रुपये की निकासी कर घर जा रहे थे। इसी बीच अपाची बाइक से आए दो अपराधियों ने डिक्की खोलकर रुपये से भरा बैग लेकर फरार हो गए। अपराधियों की सारी करतूत सीसीटीवी फूटेज में कैद हो गई है। बावजूद, पुलिस बेखबर बनी हुई है।