सीटी बजा लोगों को खुले में शौच जाने से रोका

DARBHANGA

दरभंगा। सत्याग्रह से स्वच्छाग्रह कार्यक्रम के तहत मध्यप्रदेश के सीहोर जिले से ग्रुप लीडर राजेंद्र जाट के नेतृत्व में आई 27 सदस्यीय टीम ने क्षेत्र के मकरमपुर, सझुआर व माधोपुर पंचायतों के गांवों में जाकर लोगों को स्वच्छता का पाठ पढाया। टीम के सदस्यों ने में खुले में शौच से मुक्ति के लिए व्यवहार परिवर्तन व वातावरण निर्माण के लिए चौपाल लगाकर लोगों को जागरुक किया। यह अभियान 9 अप्रैल तक विभिन्न गांवों में चलाया जाएगा। खुले में शौच जाने से होने वाली बीमारी पीलिया ,पोलियो ,मलेरिया, हैजा, टाइफाइड आदि के संबंध में लोगों को जानकारी दी गई। टीम ने चौपाल में अनुश्रवण के लिए बानर सेना एवं निगरानी समिति का गठन भी किया ,जो खुले में शौच जाने वालों पर निगरानी रखेगी। वानर सेना ने लोगों को सीटी बजाकर खुले में शौच नहीं करने की सलाह दी। उसके बाद रैली का आयोजन कर ग्रामीणों को शौचालय निर्माण एवं उपयोग के लिए संदेश दिया। शौचालय की उपयोगिता के संबध में अवगत कराते हुए सदस्यों ने बताया कि खुले में शौच जाने से बहू बेटियों के मान सम्मान को ठेस पहुंचती है। उनकी मर्यादा भंग होती है। टीम में धीरज पंवार, राकेश पवार,घनश्याम जाट,विनोद जवारिया,भगवान ¨सह,कन्हैया,और रितेश यादव सहित 27 सदस्य शामिल हैं। चौपाल में सझुआर पंचायत के मुखिया पंकज कुमार झा, माधोपुर पंचायत के मुखिया लालबाबू यादव, बीडीओ जगत नारायण मिश्र आदि थे।