वाल्मीकि टाइगर रिजर्व के एकमात्र मादा गैंडा की रहस्यमयी मौत पर सस्पेंस बरकरार

BIHAR

बगहा. बिहार के इकलौते वाल्मीकि टाइगर रिजर्व (Valmiki Tiger Reserve) में पिछले दिनों हुई गैंडा मौत मामले में वन विभाग की उलझने बढ़ गई हैं. गैंडा की मौत के कारणों पर सस्पेंस बरकरार है. पटना में एंथ्रेक्स रिपोर्ट (Anthrax report) पॉजिटिव आयी थी जबकि बरेली की जांच रिपोर्ट नेगेटिव आयी है. ऐसे में एंथ्रेक्स बीमारी से हुई मौत के कारणों पर पटाक्षेप हो गया है. बता दें कि वाल्मीकि टाइगर रिजर्व में एकमात्र बचे मादा गैंडा (Female rhinoceros) का शव जंगल किनारे गन्ने के खेत में पाया गया था.

 

जिसके बाद एंथ्रेक्स नामक बीमारी को मौत का कारण बताया गया था. जबकि देश में मशहूर बरेली प्रयोगशाला ने अपनी रिपोर्ट में एंथ्रेक्स बीमारी से मौत के कारणों से इनकार किया है. ऐसे में वन विभाग (Forest department) उलझन में है क्योंकि गैंडा का पोस्टमार्टम भी नहीं हुआ है और न ही इसके मौत से संबंधित कोई मामला ही दर्ज कराया गया है.बहरहाल वाल्मीकि टाइगर रिजर्व में अब नहीं है कोई गैंडा . एकमात्र मादा गैंडा रिजर्व में रह रही थी जिसकी रहस्यमय मौत  हो गई है.

Sharing is caring!