बिहार गठबंधन की परेशानी: नीतीश-तेजसवी बैठक के बाद भी कोई हल नहीं निकला , जद (यू) ने जोर देकर कहा कि उपमुख्यमंत्री ‘को सफाई’ देनी चाहिए

BIHAR

बहुचर्चित बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उनके उपप्रमुख तेजसवी यादव के बीच  बैठक के बाद भी महागठबंधन के समस्या का  कोई समाधान नहीं निकलता दिख रही.

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के बीच बातचीत के बाद नीतीश ने किसी से बात नहीं की है. माना जा रहा है कि तेजस्वी यादव ने अपनी सफाई में जो कुछ कहा होगा उससे वो संतुष्ट नहीं हैं. इसलिए जेडीयू की तरफ से कहा जा रहा है कि वह अभी पुराने स्टैंड पर कायम है. मतलब साफ है कि तेजस्वी यादव को अपनी सम्पत्ति के बारे में बिन्दुवार जानकारी बिहार की जनता को देना चाहिए. ये अब तेजस्वी यादव को तय करना है कि वह अपनी सफाई कैसे देंगे.

तेजस्वी और नीतीश के बीच मंगलवार को कैबिनेट बैठक के बाद करीब 45 मिनट तक बातचीत हुई. तेजस्वी यादव ने अपने ऊपर लगे आरोपों पर सफाई दी और कहा कि सीबीआई ने उन्हें फंसाया है. साथ ही वह कोर्ट में इसके खिलाफ जाएंगे और अग्रिम जमानत के साथ-साथ केस में पूछताछ के खिलाफ भी अपील करेंगे. लेकिन लगता है कि नीतीश कुमार उनके जवाब से संतुष्ट नहीं हैं तभी उन्होंने इस बातचीत के बाद किसी से कोई बात नहीं की है. इस बीच तेजस्वी यादव आज दिल्ली जा रहे हैं. माना जा रहा है कि कानूनी सलाह लेने के लिए वह दिल्ली जा रहे हैं. हांलाकि इसके अलावा भी कई अटकलें लग रही हैं.

 

दोनों पार्टियां मीटिंग पर चुप हैं लेकिन जद (यू) ने बुधवार को कहा कि राजद को आगे आना होगा। “राजद को सार्वजनिक क्षेत्र में खुद को साफ़ करना होगा। पार्टी के प्रवक्ता अजय आलोक ने कहा कि खतरा अभी  नहीं टाला है, महागठबंधन पर संकट का अभी खत्म नहीं हुआ है। हमारा स्टैंड अवि भी वही है और हम अपने स्टैंड पर कायम है

“हम एक सार्वजनिक स्पष्टीकरण चाहते हैं यह हमारे आधिकारिक स्टैंड बनी हुई है, “एमएलसी नीरज कुमार, जेडी (यू) के राज्य प्रवक्ता ने कहा।

 

बैठक से मिली जानकारी के मुताबिक नीतीश कुमार ने कहा था कि सीबीआई ने जांच पड़ताल के बाद केस दर्ज किया है और यह राज्य का विषय नहीं है इसलिए उन्हें तेजस्वी से सफाई नहीं चाहिए बल्कि बिहार की जनता को सफाई देनी होगी. बैठक में तेजस्वी को यह भी याद दिलाया गया कि  महागठबंधन की सरकार बनते समय यह तय हुआ था कि भ्रष्टाचार से कोई समझौता नहीं होगा.

Sharing is caring!