पटना साहेब में बढ़ते अपराध का ग्राफ कही कम न कर दे इसकी साख..एक खास रिपोर्ट..

blog BREAKING NEWS ELECTIONS HOME LIVE NEWS Patna patna ganges PHOTOS POLITICS

पटनासिटी: राजधानी से सटे पटना सिटी/पटना साहिब में आये दिन अपराध का रेसीयो बढ़ रहा है,

पर इस बार की घटना को गंभीरता से देखने की जरूरत है, वाक्या मंगलवार रात बाल लीला गुरुद्वारा के निकट मंगलतलाब के लेजर शो की है जहाँ सिख श्रद्धालुओं एवं आम लोगो की भीड़ शो देखने के लिए लगी थी तभी 2 गुटों में आपसी वर्चस्व को लेकर लड़ाई ठन गयी..

ये गुट कोई विशेष अपराधिक रिकॉर्ड वाले मुजरिमों का नही बल्कि 22 से कम उम्र वाले युवकों का था, धीरे धीरे मामले ने तूल पकड़ लिया और एक गुट के युवकों ने दूसरे गुट के एक युवक जिसका नाम मिक्कू कुमार बताया जाता है उसे चाकूओं से जख्मी कर दिया, तभी दूसरे गुट की ओर से गोलियां चलने लगी.. भीड़ तीतर बितर हो गई और मुम्बई से आये सिख श्रद्धालु दर्शन सिंह के पुत्र जितेंद्र सिंह के बाये पैर में गोली जा लगी.. हालांकि गोली लगने वाला पीड़ित अब ठीक है। उधर चाकूओं से जख्मी मिक्कू कुमार की मौत पी.एम.सी.एच में इलाज के दौरान हो गई। पुलिस ने इस मामले में हरमंदिर गली से एक अभियुक्त को गिरफ्तार भी किया है।

सूत्रों की माने तो घटना को अंजाम आपराधिक प्रवृत्ति के बॉडी बिल्डर बाइक राइडर्स युवकों ने दिया है, दिक्कत ये है की इन्हें भीड़ में पहचानना मुमकिन नही बस इन्हें क्राइम स्पॉट से ही गिरफ्तार किया जा सकता है।

पर सवाल ये उठता है की इन घटनाओं पर रोक कैसे लगाई जाए, पुलिस निश्चित नाकों पर चेकिंग तो लगाती है पर ये लफंगे बाइक राइडर्स मैन रोड छोड़ गलियों का इस्तेमाल करते है, इनकी अनियंत्रित गति के कारण गलियों में भी कभी भी अप्रिय दुर्घटनाओं की आशंका बनी रहती है।

इन घटनाओं पर जल्द लगाम न कसा जाए और पुलिस अपनी कार्यवाई में तेजी न लाए तो अंजाम घातक हो सकते है.. इससे पटना सिटी की छवि भी बिगड़ सकती है।

जहाँ एक तरफ राज्य सरकार पटना साहिब को टूरिस्ट स्पॉट में बदलने की क़वायद में लगी है और काफी हद तक सफल भी हो गयी है.. वही इन इलाकों में आये दिन लफंगे लहरिया कट बाइक चलाने और मारपिटाई कर आतंक फैलाने का काम करते रहते है।

गंगा के किनारे दारू का अवैध कारोबार यहाँ फल फूल रहा है, सुबह से ही पटना सिटी से सटे गंगा घाटो पर तथाकथित महुआ ब्रांड की दारू जो असल मे जानवरों को देने वाले जहरीले दवाइयों से बनाई गई शराब है उसकी पैकिंग का नजारा देखा जा सकता है।

पुलिस को इन चीज़ों पर नकेल कसने की कवायद तेज करनी चाहिए।

पटना साहिब जो सिखों के दसमें एवं अंतिम गुरु, गुरु गोविंद सिंह की धरती है एवं सिखों का दूसरा सबसे बड़ा तीर्थ स्थल है, उसे अपराध मुक्त एवं भय मुक्त बनाने की ओर प्रशासन को जल्द ध्यान देना ही होगा।